करियर Live.net

जोश है, जुनून है तो बन सकते हैं Mountaineer

पर्वतारोहण (Mountaineering) एक  ऐसा करियर है, जिसके लिए जोश और जुनून चाहिए। पहाड़ों की ऊंची-ऊंची चोटियों को लांघने का हौसला चाहिए…

खतरों के खिलाड़ी बनना आसान नहीं होता  लेकिन जिसमें जोश है, जुनून है, उसे कोई रोक भी नहीं सकता। पर्वतारोहण (Mountaineering) ऐसा ही एक करियर है, जिसके लिए जोश और जुनून चाहिए। पहाड़ों की ऊंची-ऊंची चोटियों को लांघने का हौसला चाहिए। इस लेख में हम जानेंगे कि पर्वतारोहण को किस तरह करियर बना सकते हैं (How to make career in Mountaineering in Hindi) और देश में इसके लिए सबसे अच्छे इंस्टीट्यूट कौन-से हैं (Best mountaineering institutes in India in Hindi) । यह भी जानेंगे कि पर्वतारोहण को करियर बनाने पर कितनी कमाई हो सकती है (How much does a mountaineer earn in Hindi)?

कहां से करें Mountaineering Course

सबसे पहले जान लेते हैं कि देश में सबसे अच्छे इंस्टीट्यूट कौन-से हैं, जहां से Mountaineering का कोर्स कर सकते हैं (Top mountaineering institute in India in Hindi)। Mountaineering के साथ आप यहां से Trekking (दुर्गम सफर) और Skiing (स्की के सहारे बर्फ पर फिसलना स्कीइंग कहलाता है। लकड़ी या प्लास्टिक से बने लंबे, चपटे तख्तों की जोड़ी को स्की कहते हैं, जिसे जूते से बांधते हैं) का कोर्स भी कर सकते हैं। वैसे तो Mountaineering के लिए कई इंस्टटीयूट हैं, पर Indian Mountaineering Foundation (IMF) से मान्यता प्राप्त चार इंस्टीट्यूट हैं –

  • Nehru Institute of Mountaineering (NIM) Uttarkashi
  • Jawahar  Institute of Mountaineering (JIM), Pahalgam
  • Himalayan Mountaineering Institute (HMI)  Darjeeling
  •  Atal Bihari Vajpayee Institute of Mountaineering and Allied Sports (ABVIMAS), Manali

इनके अलावा कई और इंस्टीट्यूट हैं, जो कि कोर्स करवाते हैं –

  • Indian Institute of Skiing and Mountaineering (IISM),  Gulmarg
  • Sonam Gyatso Mountaineering Institute (SGMI), Gangtok
  • Indian Himalayan Centre for Adventure & Eco-Tourism (IHCAE),  Chemchey
  • National  Institute of Mountaineering and Allied Sports (NIMAS), Dirang

कौन-कौन से हैं Mountaineering Course

Mountaineering के लिए अलग-अलग स्तर के कोर्स चलाए जाते हैं (mountaineering Courses in India 2021 in Hindi), इनमें Basic से लेकर Advance कोर्स तक शामिल हैं –

BMC : Basic Mountaineering Course के लिए 16 से 40 साल की उम्रसीमा तय है (अलग-अलग Institutes में उम्रसीमा में थोड़ा अंतर हो सकता है)।  वहीं इसी कोर्स के लिए एक अन्य बैच के लिए उम्रसीमा 20 से 55 साल है। यह शुरुआती स्तर का कोर्स है, जिसमें रॉक क्राफ्ट और आइस क्राफ्ट की तकनीक बताई जाती है। यह कोर्स शारीरिक और मानसिक रूप से चुनौतीपूर्ण होता है, इसके लिए फिटनेस का होना जरूरी है। यह 28 दिनों का कोर्स है।

AMC :  Advanced Mountaineering Course के लिए उम्रसीमा 18 से 40 साल तय है। जबकि इसी कोर्स के लिए एक अन्य बैच के लिए उम्रसीमा 18 से 42 साल है। इसमें Mountaineering के लिए प्रैक्टिकल और एडवांस तकनीक की जानकारी दी जाती है। यह भी 28 दिनों का कोर्स है।

SAR : Search and Rescue कोर्स 21 दिनों का है और इसके लिए उम्रसीमा 19 से 45 साल है। यह कोर्स ऐसे लोगों के लिए है, जो कि Mountaineering करियर को गंभीरता से लेना चाहते हैं। इसमें किसी भी इमरजेंसी हालात से निपटने और मुश्किल वक्त में लोगों की जिंदगी बचाने की ट्रेनिंग दी जाती है। रेस्क्यू ऑपरेशन को संभालने के लिए इससे आत्मविश्वास पैदा होता है।

MOI : Method of Instruction कोर्स 21 दिनों का है। इसके लिए उम्रसीमा 19 से 45 साल है। यह कोर्स उन लोगों के लिए है, जो कि क्लिंबिंग या आउटडोर इंस्ट्रक्टर बनना चाहते हैं, वह चाहे स्कूल हो या एडवेंचर इंडस्ट्री।

Mountaineering Course की कितनी फीस

अब Mountaineering कोर्स की फीस जान लेते हैं (Mountaineering Institute Courses Fee in Hindi)। Nehru Institute of Mountaineering (NIM) Uttarkashi और Himalayan Mountaineering Institute (HMI)  Darjeeling में Mountaineering के सभी चार कोर्स BMC (Basic Mountaineering Course), AMC (Advanced Mountaineering Course), SAR (Search and Rescue), MOI ( Method of Instruction) की फीस एक समान 16,940 रुपये है। Jawahar  Institute of Mountaineering (JIM), Pahalgam में BMC,AMC और MOI की फीस 15,400 रुपये है, वहीं जम्मू-कश्मीर के लोगों के लिए फीस में छूट है।

कब और कैसे ले सकते हैं दाखिला

Mountaineering कोर्स में दाखिले की प्रक्रिया भी जान लेना जरूरी है (Admission Procedure for Mountaineering Course in Hindi)। इसके लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। Nehru Institute of Mountaineering (NIM) Uttarkashi में 20 मार्च से कोर्स की शुरुआत हो चुकी है। ज्यादा जानकारी के लिए NIM की आधिकारिक वेबसाइट देखें। वहीं, Himalayan Mountaineering Institute (HMI)  Darjeeling की बात करें तो वहां Basic Course के 1 अप्रैल से लेकर अगले साल 28 मार्च तक अलग-अलग बैच की सभी सीटें अभी से भर चुकी हैं। Advance Course की कुछ सीटें बची हैं। Search and Rescue और Method of Instruction कोर्स की सीटें अभी बची हैं। ज्यादा जानकारी के लिए HMI की आधिकारिक वेबसाइट देखें। Atal Bihari Vajpayee Institute of Mountaineering and Allied Sports (ABVIMAS), Manali में इस साल के कोर्स के लिए ऑनलाइन बुकिंग शुरू हो चुकी है। ज्यादा जानकारी के लिए ABVIMAS की आधिकारिक वेबसाइट देख सकते हैं। Jawahar  Institute of Mountaineering (JIM), Pahalgam में कोर्स की बुकिंग से संबंधित जानकारी के लिए आधिकारिक वेबसाइट देख सकते हैं।

Mountaineer की कमाई कितनी

अब यह जान लेते हैं कि Mountaineer बनने पर कितनी कमाई कर सकते हैं (How much does a mountaineer earn in Hindi)। कमाई के हिसाब से यह करियर बहुत अच्छा नहीं है, इसे वही लोग अपना पेशा बनाते हैं, जिन्हें कमाई से ज्यादा अपना शौक और रोमांच भाता है। इंस्ट्रक्टर के तौर पर स्कूल, क्लब या फिर इंस्टीट्यूट ज्वाइन कर सकते हैं। शुरुआती सालाना सैलरी 1,48,962 रुपये है, वहीं 7-8 साल के तजुर्बे के बाद 2,26,664 रुपये सालाना तक मिल जाते हैं। Mountaineer के तौर पर आप ब्लॉग, यूट्यूब चैनल, फोटोग्राफी से अपनी कमाई को बढ़ा सकते हैं।

40 thoughts on “जोश है, जुनून है तो बन सकते हैं Mountaineer”

  1. युवाओं के मार्गदर्शन के लिए एक शानदार पहल। जहां सरल और सहज भाषा में बताया जाता है।

    Reply

Leave a Comment